ख़ुफ़िया जानकारी देने के लिए भारतीय सेना के जवान को पाकिस्तान से मिलते हैं रुपये

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मोदी सरकार में कोई काम हुआ हो या नहीं हुआ हो पर एक काम तो जरुर अच्छा हुआ है वह यह कि देशभक्ति के नाम पर तमाम देश्द्रोही लोगो को गिरफ्तार किया जा चुका है जिसमे खुद बीजेपी के लोग भी शामिल हैं .ताजा मामला  मेरठ से गिरफ्तार सेना के गद्दार जवान कंचन सिंह का है जिसको लेकर दिल्ली की खुफिया एजेंसी और सेना ने व्यक्तिगत स्तर पर जांच शुरू कर दी है। शुरुआती जांच में जो बात सामने आई है वो बेहद चौंकाने वाली है। बताया जा रहा है कि आरोपी सैनिक कंचन सिंह के अकाउंट में पाकिस्तान से सात लाख रुपये भेजे गए थे। ये एक निजी अकाउंट था जिसकी जानकारी सेना को नहीं दी गई थी। जवान के कारनामों का भंडाफोड़ होने के बाद सेना को इस बात की जानकारी मिली है। जांच टीम का मानना है कि ये पैसा आईएसआई की ओर से ही कंचन सिंह के अकाउंट में ट्रांसफर किया गया था।

अभी तक हुई जांच से मिली जानकारी के मुताबिक सैन्य सूत्रों के मुताबिक कंचन के सैलरी खाते को मिलाकर कुल तीन खाते हैं। जिसमें से उसने दो खातों की जानकारी तो सेना को दे रखी थी लेकिन बाकी अन्य खातों के बार में सेना को कोई जानकारी नहीं थी। इसी तीसरे खात में पाकिस्तान की ओर से 7 लाख रुपये भेजे गए हैं। सेना बाकी के घर के सदस्यों के खातों की जानकारी जुटाने में लग गई है।

डाउनलोड करें Hindi News APP और रहें हर खबर से अपडेट।

loading...

सेना में कंचन की नौकरी को आठ साल हुए हैं। सैना मानकर चल रही है कि इतने कम सालों में इतनी रकम उसके खाते में जमा नहीं हो सकती थी। सेना इस मामले की जांच हर एंगल से कर रही है। सेना उन लोगों पर भी निगरानी रखे हुए है जो जो सेना में या व्यक्तिगत तौर पर कंचन सिंह से जुड़े हुए थे। वहीं दिल्ली से खुफिया एजेंसियों के लोग दो दिन से मेरठ में ही डेरा डाले हुए हैं, लेकिन दूसरी एजेंसियों को अभी सेना ज्यादा जानकारी नहीं मुहैया करा रही है। मामले की जांच गोपनीय तरीके से चल रही है।

पाकिस्तान की जासूसी करते पकड़े गये देशभक्तों के नाम

1 त्रिलोक सिह भदौरिया
2 कुश पंडित
3 मनीष गाँधी 
4 माधुरी गुप्ता
5 मोहित अग्रवाल
6 ध्रुव सक्सेना
7 संदीप गुप्ता
8 बलराम सिंह
9 रितेश सिंह
10 जीतेन्द्र ठाकुर
11 अच्युतानंद मिश्रा BSF
12 निशांत अग्रवाल
13 अरुण मारवाह
14 रमेश शाह

 

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Related posts

Leave a Comment