रिमोट कंट्रोल से चल रहे थे पूर्व सीजेआई दीपक मिश्रा -रिटायर्ड जस्टिस कुरियन

मोदी की एक और तानाशाही का मामला उच्चतम न्यायालय के सेवानिवृत्त जज कुरियन जोसेफ के बयान से सामने आया है उन का कहना है कि उन्होंने तीन जजों के साथ 12 जनवरी को प्रेस कांफ्रेस इसलिए की क्योंकि उन्हें लगा कि उस समय के मुख्य न्यायधीश दीपक मिश्रा को कोई बाहर से नियंत्रित कर रहा था और वह राजनीतिक पूर्वाग्रह के साथ न्यायाधीशों को मामलें आवंटित कर रहे थे। टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए इंटरव्यू में न्यायमूर्ति जोसेफ ने बताया कि आखिर क्यों उन्हें तीन वरिष्ठ जजों- न्यायमूर्ति जस्ती चलमेश्वर,…