जो बिजली यूपीए में ढाई रुपये यूनिट हुआ करती थी वो अब पांच रुपये तक कैसे पहुँच गई, इस पर कोई सवाल कयो नही करता ?

इस जमाने में आप तार्किक होना बंद कर दीजिए. आप खुद को बुद्धिजीवी मान के इतराना भी, बुद्धिजीवी होना अब कोई गर्व की बात नहीं रही. जैसे सेकुलर होना. ज्यादा पढ़ना भी, खासकर तब जब आप जेएनयू जैसे संस्थान में लम्बी डिग्री लेने का मन बना रहे हों. आप नए एंगल से सोचना भी बंद कर दीजिए. आपकी बुद्धिमत्ता उसी में है कि आप उसी ढर्रे पर सोचे जिस पर बहुसंख्यक (धर्म वाला नही) वर्ग जा रहा हो. भीड़ बनिए. नया रास्ता मत खोजिए. नया रास्ता खोजने पर भीड़ को…

कया मोदी को दुबारा पीएम इसलिये बनाया जाय कि अभी जो पेट्रोल 35 का मिल रहा है उसे वे 90 का बेच सके !

मोदी जी का दोबारा प्रधानमंत्री बनना बेहद ज़रूरी है. अगर ऐसा नहीं हुआ तो बीते पाँच सालों में उन्होंने जो मेहनत की है उस पर पूरी तरह पानी फिर जाएगा: जो पेट्रोल आज 36 रुपए लीटर मिल रहा है, वह फिर से 80 रुपए के पार पहुँच जाएगा जैसा 2014 से पहले था. रुपए की जिन गिरती क़ीमतों को मोदी जी ने अपने अथक प्रयासों से ऊपर चढ़ाया है, वह फिर धरातल में जाने लगेंगी. जो पाकिस्तान आज अपने लाहौर को बचाने के लिए मिमिया रहा है, वह फिर से…

पीएम मोदी ने भृष्ट आचरण वाले अफसर सुनील अरोङा को ही क्यो बनाया मुख्य चुनाव आयुक्त !

एक मुख्य चुनाव आयुक्त टी एन शेषन थे जो ‘राजनीतिज्ञों को नाश्ते के साथ खा जाते’ थे और एक आज के मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा है जिन्हें सत्तासीन राजनीतिज्ञ हाजमा हजम की गोली समझ कर गटक लेते हैं यह अंतर आना स्वाभाविक है टीएन शेषन की रीढ़ की हड्डी बहुत मजबूत थी और आज मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा जिस तरह की पृष्ठभूमि से आये हैं वह पृष्ठभूमि गवाही देती है कि अभी और गिरना बाकी हैं पतन का सिलसिला अभी और चलना बाकि है सुनील अरोड़ा की जब…

काले धन और डिफाल्टरों द्वारा दिये गये भारी चंदे से बीजेपी ने बनाया है दिल्ली मे 1400 करोङ का फाइव स्टार ऑफिस और देश मे 600 आलीशान ऑफिस

अब भी 31 प्रतिशत लोगो की आंखे नही खुल रही है तो इस देश का अब भगवान ही मालिक है। कल शाम अचानक पता चला कि वीडियोकॉन में बैंको का फंसा हुआ कर्ज कोई 10 या 15 हजार करोड़ नही है यह रकम 5 गुना से भी अधिक करीब 90 हजार करोड़ है कल कंपनी रिजॉल्यूशन प्रोफेशनल ने वीडियोकॉन के विभिन्न वित्तीय संस्थानों के फसे हुए कर्ज के आंकड़ों को सार्वजनिक कर दिया। अब कोई इस बात का जवाब दे कि इतनी बड़ी रकम दांव पर लगी थी तो साढ़े…

वाह मोदी जी वाह, अपनो पे सितम गैरो पर करम – बीएसनल को बर्बाद कर बङे अंबानी को मालामाल, एचएएल को बर्बाद कर छोटे अंबानी को मालामाल

बीएसएनएल के बारे में आपको इतना तो पता है न कि लगभग 55 हज़ार कर्मचारी कभी भी घर पर बिठाए जा सकते हैं। अब इसकी आगे की कहानी मेरे से सुनिए। आपको इसलिए भी सुनना चाहिए कि कभी लोग बीएसएनएल की सिम लेने ब्लैक में 2000 रुपए भी देने को तैयार रहते थे,उस कंपनी का सिम अब शहर के किसी दुकान में नहीं बिकता।और अब तो इस कंपनी का कुल चालू घाटा 31,287 करोड़ रुपया तक पहुंच गया है। दरअसल मोदी को जब पीएम कैंडिडेट घोषित किया गया तब देश…

मोदी का एक और झूठ सामने आया,अमेरिका ने अपनी जांच में पाकिस्तान को दिये F-16 की संख्या पूरी पाई। यह कितने शर्म की बात है कि मोदी सेना से झूठ बुलवाते है

मोदी का एक और झूठ सामने आया,अमेरिका ने अपने जांच में पाकिस्तान को दिये F-16 की संख्या पूरी पाई। एक भी F-16 गायब होने की रिपोर्ट नही है। मतलब मोदी ने सेना से भी झूठ बुलवाया है। ये कितने शर्म की बात है घटिया राजनीति के लिए पीएम ने सेना और देश का मनोबल गिरा दिया है। अमेरिकन मैगजीन ‘फॉरेन पॉलिसी’ की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान के पास उसके सभी एफ-16 लड़ाकू विमान मौजूद हैं. इसमें बताया गया है कि अमेरिका ने खुद पाकिस्तान जाकर एफ-16…

प्रधानमंत्री जी, मुझे बताया गया कि आप नवरात्र पूजा की व्रत पर पपीता खाते है क्या ये सच है ?

क्या पत्रकारिता का यह चारणकाल है ? शुरू’ प्रधानमंत्री जी, आपकी एनर्जी का क्या राज है’ और खत्म ‘एक फकीरी है आप मैं’ से नहीं हुआ तो कोड़िया पुल से कूद जाऊंगा- परेसान जोशी प्रधानमंत्री का एक साक्षात्कार एबीपी न्यूज़ ने लिया जो सवाल पूछे और जो उत्तर मिले वह देखिये ये इंटरव्यू के लिये कोई तो डोज देता है ,तभी प्रसून जोशी से लेकर अंजना ओम मोदी तक सारे चमचा चमची कलेजा निकालकर इसके पैरो मे रख देते है pic.twitter.com/Y693bx5dJA — Manoj S Guatam (@manojsguatam) April 5, 2019 यह…

अमित शाह ने 2014 से पहले एक NGO बनाया जो 3 साल तक बेकार रहा, अब नाम बदलकर ABM कर दिया, इसमे कार्यकर्ताओं को अंधभक्त बनाया जाता है

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की एक पर्सनल बीजेपी भी है नाम है ABM Assocation of Billion Minds, ABM, यह वो संगठन और नेटवर्क है जो बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह की पर्सनल टीम की तरह काम करती है। बीजेपी अपने आप में एक विशाल संगठन है। निष्ठावान कार्यकार्ताओं की फौज है। इसके बाद भी ABM पार्टी के समानांतर सिर्फ अध्यक्ष की मर्ज़ी से काम करने वाला ऐसा नेटवर्क है जिसके बारे में ज़्यादातर कार्यकर्ताओं को पता भी नहीं होगा। सांसदों को भी पता नहीं होगा। जिन्हें पता होगा उन्हें बस…

औद्योगिक घरानों का देश की राजनीति पर कब्ज़ा हो गया है। वे नेताओं के दादा हैं, प्रधानमंत्री मोदी तक उनके सामने मजबूर हैं।

राहुल गाँधी

धंधेबाज़ मीडिया मालिकों से भिड़ेगी, कोर्ट ऑफ अपील बनाएगी, इलेक्टोरल बान्ड खत्म कर देगी कांग्रेस कांग्रेस का घोषणा पत्र 90 के बाद की आर्थिक नीतियों की राजनीति का रास्ता बदलने का संकेत दे रहा है। उदारीकरण की नीति की संभावनाएं अब सीमित हो चुकी हैं। इसमें पिछले दस साल से ऐसा कुछ नहीं दिखा जिससे लगे कि पहले की तरह ज़्यादा वर्गों को अब यह लाभ दे सकती है। बल्कि सारे आंकड़े उल्टा ही बता रहे हैं। 100 करोड़ से अधिक आबादी वाले देश में कुल संपत्तियों का 70 फीसदी…

स्मृति ईरानी को मोदी ने किस आधार पर शिक्षा मंत्री बनाया था जबकि इसकी शिक्षा ही संदेहास्पद है !

श्रीमती स्मृति ईरानी जी, आपने जब वर्ष 2004 के लोकसभा चुनाव में चांदनी चौक से कपिल सिब्बल के खिलाफ चुनाव लड़ा था, तब आपने नामांकन पत्र में अपनी शैक्षणिक योग्यता बीए बताई थी और आपने ये बताया था कि यह डिग्री आपने 1996 में पूरी की थी हालांकि यह भी सच है कि दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) प्रशासन ने पटियाला हाउस कोर्ट में इस मामले में हाथ जोड़ लिए थे और बताया था कि वर्ष 1996 में मंत्री द्वारा की गई बीए की पढ़ाई से संबंधित रिकॉर्ड उसे नहीं मिल रहा…