मोदी के कुशल नेतृत्व में देश हुआ पूरी तरह बर्बाद, उबरने मे लगेगें अब 50 साल

हम क्यों कह रहे हैं कि भारतीय अर्थव्यवस्था वेंटिलेटर पर लेट ही गयी हैं। आज खबर आई हैं कि इस साल मार्च में इंडस्ट्रियल ग्रोथ 5.3 फीसदी से घटकर -0.1 फीसदी पर आ गई है. ये आंकड़े 23 महीने में सबसे कम है. एक्सपर्ट्स का कहना है कि आईआईपी ग्रोथ के गिरने का अनुमान पहले से था. लेकिन ये नंबर्स अनुमान से बेहद खराब है. ऑटो सेल्स में आई गिरावट का असर भी इन आंकड़ों पर है। कल ही प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद के सदस्य रथिन रॉय का बयान…

राजीव गांधी को मारने वाली नलिनी से प्रियंका गांधी जब मिली तो दोनो फूट फुटकर कयो रोने लगी ?

18 अक्टूबर, 2008 को प्रियंका गांधी नलिनी से मिलने जेल गयीं. नलिनी राजीव गांधी की हत्या के मुख्य षड्यंत्रकर्ताओं में से एकमात्र जीवित व्यक्ति हैं. गिरफ्तारी/मुकदमे के दौरान वह गर्भवती थीं. सोनिया गाँधी ने लिखित में उनकी फाँसी की प्रदत्त सज़ा को उम्र क़ैद में बदल देने की गुज़ारिश की ताकि उनकी बच्ची माँ के पालन पोषण से वंचित न हो. बहरहाल, सत्रह साल बीत जाने के बावजूद नलिनी को बिल्कुल अपेक्षा नहीं थी कि उनसे राजीव के परिवार का कोई व्यक्ति मिलने आ सकता है. वे अवाक रह गयीं.…

मोदी जी, आप हताश और मानसिक बीमार हो चुके है, ईश्वर आपको सद्बुद्धि दे ! गेट वेल सून – राहुल गांधी

“राहुल गाँधी तुम्हारे पिता का अंत भ्रष्टाचारी के रुप में हुआ है ! ये बोल है एक बड़े पद पर बैठे बहुत नीच इंसान के ! अब इसके जवाब में राहुल गाँधी ने जो जवाब दिया है उसे देखिए-“आप हताश और मानसिक बीमार हो चुके है मोदीजी, ईश्वर आपको सद्बुद्धि दे ! गेट वेल सून !” दोनों के शब्दों में अंतर से साफ पता चल रहा है की कौन किसकी औलाद है, कौन किस परिवार से है और कौन कितना जाहिल है ! मोदीजी की सड़कछाप मवालियों की भाषा देखे…

अरे मोदी जी, अब तो जी न्यूज देखना बंद कर दो, पं नेहरू जब कुंभ में आए तो हजारों लोग मारे गए थे, ये झूठी कहानी किसलिए ?

पीएम मोदी ने फिर झूठ बोला कि पंडित नेहरू जब कुंभ में आए तो अव्यवस्था के कारण भगदड़ मच गई थी, हजारों लोग मारे गए थे। अरे मोदी जी कम से कम अब तो जी न्यूज देखना बंद कर दो। कौशांबी में एक चुनावी जनसभा में 1954 में आज़ादी के पहले कुंभ और साल 2019 के कुंभ की तुलना करने और नेहरू के आने के कारण मची भगदड़ जैसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दावों पर सवाल उठ रहे हैं। सवाल इस बात पर भी उठ रहे हैं कि उस वक़्त…

जनता 5 साल से अंधेरे में है पीएम मोदी उसे टार्च दिखा कर सूरज बता रहे हैं।

मसूद अज़हर से सियासी लाभ के लिए भारत ने चीन और पाक की शर्तें क्यों मानी इंडियन एक्सप्रेस में शुभाजीत रॉय की एक ख़बर है। आप पाठकों को यह ख़बर पढ़नी चाहिए। इससे एक अलग पक्ष का पता चलता है और इस मामले में आपकी जानकारी समृद्ध होती है। इस रिपोर्ट में विस्तार से बताया गया है कि अज़हर पर प्रतिबंध लगाने के लिए कब कब और क्या क्या हुआ। भारत को मसूद अज़हर पर प्रतिबंध चाहिए था। इस पर भी अध्ययन कीजिए कि इस प्रतिबंध को हासिल करने के…

चाटुकार पत्रकारों की औकात नही पीएम से कह सके कि वंदेमातरम सुना दो।

निशान्त चतुर्वेदी की राबड़ी जी पर ओछी टिप्पणी पर कुछ सुंदर प्रतिक्रिया: कोई नहीं निशान्त जी,आपकी माता जी यानि हमारी भी आदरणीय एवं सम्माननीय माता श्री तीन बार नहीं एक बार भी ट्विटर बोलती होंगी या नहीं बोलती होंगी लेकिन फिर भी हमारे लिए उतनी ही सम्माननीय रहेंगी। थोड़ा ऊँचा सोचिए ताकि @aroonpurie जी Funny Videos दिखाने की बजाय आपको कुछ डिबेट शो दे सके । – तेजस्वी यादव Dear @aroonpurie ji, Do you really endorse the classist, racist, xenophobe and casteist remark by your editor? Don’t you think he…

स्किल इंडिया के तहत रोजगार देने आए थे, लेकिन खुद ही बेरोजगार हो गए।

सन 2015 में सरकार ने प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना लांच की थी. इस योजना के तहत 2016 से 2020 के बीच अलग-अलग सेक्टर में एक करोड़ युवाओं को ट्रेनिंग देने की बात कही गई थी. सरकार के तरफ से इस योजना के लिए 12000 करोड़ का बजट भी रखा गया है. इस योजना के तहत पूरी देश मे 2500 से भी ज्यादा सेन्टर खोले गए. कई लोगों ने अपना नौकरी छोड़कर सेन्टर खोलने में पैसा लगाया. स्किल इंडिया सेन्टर की हालत बहुत खराब है. दिल्ली में कई सारे सेंटर बंद…

एक और खुलासा- मोदी सरकार ने किया 4 लाख करोड़ का घोटाला, सुप्रीम कोर्ट ने मांगा जवाब

मोदी सरकार पर चार लाख करोड़ रुपए के घोटाले का आरोप, कोर्ट ने मांगा जवाब केंद्र पर बिना वैल्यूएशन किए 358 खदानों की लीज के एक्सटेंशन का आरोप, कोर्ट ने पूछा- क्यों न लीज रद्द की जाए केंद्र सरकार ने वर्ष 2015 में संशोधित माइन्स एंड मिनरल्स एक्ट लाकर राज्य सरकारों को बाध्य किया कि वह 288 कच्चे लोहे के मिनरल ब्लॉक्स की खदानों की लीज की अवधि को बढ़ा दें।  याचिकाकर्ता का आरोप है कि ऐसा केंद्र सरकार ने इसलिए किया क्योंकि इसकी एवज में उनकी पार्टी को भारी…

बङा खुलासा- पीएम बनते ही मोदी ने 200 टन सोना बैंक ऑफ़ इंग्लैंड और बैंक ऑफ़ इंटरनेशनल सेटलमेंट्स में गिरवी रखा

रिज़र्व बैंक और गोल्ड -एक शार्ट परिचय इतिहास के झरोखे से 1991 में पहली बार जब मुल्क गंभीर अर्थसंकट से गुजरा था तब तत्कालीन सरकार ने करीब 47 टन गोल्ड बैंक ऑफ़ इंग्लैंड में गिरवी रख कर जैसे -तैसे स्थिति काबू में किया। तभी इंडियन एक्सप्रेस में खबर छप गई कि गोल्ड देश से बाहर चला गया और देश में बड़ी हाय -तौबा की स्थिति में तत्कालीन वित्त मंत्री मनमोहन सिंह को संसद में इस विषय पर बयान जारी करना पड़ा , ये स्थिति क्यों आई -कैसे आई और कैसे इस संकट…

किसे ज़्यादा चंदा दे रहे हैं औद्योगिक घराने ? टाटा का चंदा 25 करोड़ से बढ़कर 500 करोड़ हुआ – रवीश कुमार

किसे ज़्यादा चंदा दे रहे हैं औद्योगिक घराने, टाटा का चंदा 25 करोड़ से बढ़कर 500 करोड़ हुआ आज आपके सामने अलग-अलग समय पर छपे दो ख़बरों को एक साथ पेश करना चाहता हूं। एक ख़बर 7 दिन पहले की है जो इंडियन एक्सप्रेस में छपी थी और दूसरी ख़बर आज की है जो बिजनेस स्टैंडर्ड में छपी है। यह बताने का एक ही मकसद है। अख़बार पढ़ने का तरीका बदलना होगा और अख़बार भी बदलना होगा। आप ख़ुद फ़ैसला करें। इन दो ख़बरों को पढ़ने के बाद आपकी समझ…