गाय माता की चिंता सी दिखाने वाली बीजेपी सरकार को यह सब क्यो नही दिख रहा है ?

इन तस्वीरों में कुछ भी नया नहीं है। हर शहर और गाँव-क़स्बे की कहानी है। गाय को लेकर राजनीति ही की गई। उसका एक ही मक़सद था, दो धर्मों के बीच गाय खड़ी कर दो। गायें खडीं हो गईं खेतों में। किसान दौड़ने लगा गाय और सांड के पीछे। खेतों में कँटीली तारें बाँधी जाने लगी। गायें छलनी होने लगीं। किसानों की जेब खाली होने लगी। गाँवों में चारागाह की ज़मीन पर दबंगों का कब्ज़ा है। गौ माता के नाम पर इनके ख़िलाफ़ कोई चूँ तक नहीं बोलेगा क्योंकि यही…

नितिन गडकरी को कोई नही हरा सकता वे उदार व्यक्तित्व के धनी है। कोई भी दलित मुस्लिम उनके पास काम से जाते हैं तो वो उसे कर देते हैं।

नागपुर में गडकरी साहब को हराना नामुमकिन है, लिख लो। उनकी बौद्ध, दलित और मुस्लिम मे बहुत अच्छी पकड है। इन सब तबको का बडा वोट गडकरी साहब को पिछली बार मिला था, लगता है इस बार भी मिल ही जायेगा। किसी भी धर्म, जाति, वर्ग का व्यक्ति उनके बारे में अच्छा ही बोलता है। गडकरी जी उदार व्यक्तित्व के धनी है। कोई भी दलित मुस्लिम उनके पास किसी काम से जाते हैं तो वो उस काम को पुरा कर देते हैं। किसी मुस्लिम की छोटी सी दुकान हो और…

गुजरात के दो ठग देश की जनता को गुमराह कर रहे हैं इनसे बचना चाहिए – आई पी सिंह, बीजेपी नेता

बीजेपी ने अपने एक वरिष्ठ नेता को पार्टी से इसलिए निकाल दिया. कयोकि उसने नरेन्द्र मोदी और अमित शाह को ठग बोल दिया। पार्टी के पूर्व प्रवक्ता आईपी सिंह ने ट्वीट कर कहा था कि ‘‘दो गुजराती ठग हिन्दी हृदय स्थल, हिन्दी भाषियों पर कब्जा करके पांच वर्ष से बेवकूफ बना रहे हैं। आज आंतरिक भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज़ उठाने पर भारतीय जनता पार्टी में मेरी मैराथन पारी का अंत हुआ,जाते जाते मैं माननीय @myogiadityanath जी को शुभकामनाएँ देना चाहूँगा। सूपर CM ‘सुनील बंसल’ के राज में वो कैसे जी…

कांशीराम भारतीय राजनीति के बेमिसाल रसायनशास्त्री थे

कांशीराम राजनीति के बेमिसाल रसायनशास्त्री भारतीय राजनीति में ऐसा पहले कभी नहीं हुआ. और दूसरी बार ऐसा कब होगा, यह सवाल भविष्य के गर्भ में है. लगभग 50 साल की उम्र में एक व्यक्ति, वर्ष 1984 में एक पार्टी का गठन करता है. और देखते ही देखते देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश, जहां से लोकसभा की 85 सीटें थीं, में इस पार्टी की मुख्यमंत्री शपथ लेती है. यह पार्टी पहले राष्ट्रीय पार्टी और फिर वोट प्रतिशत के हिसाब से देश की तीसरी सबसे बड़ी पार्टी बन जाती है.…

बेरोजगारो और किसानों को उल्लू बनाने के लिए बहुत ज़रूरी हैं राष्ट्रवाद के नारे – रवीश कुमार

किसानों को उल्लू बनाने के लिए बहुत ज़रूरी हैं राष्ट्रवाद के नारे ग्रामीण इलाके में न सिर्फ खेती से आय घटी है बल्कि खेती से जुड़े काम करने वालों की मज़दूरी भी घटी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी इस असफलता को आतंकवाद और राष्ट्रवाद के जोशीले नारों से ढंकने की कोशिश में हैं मगर पांच साल में उस जगह को बर्बाद किया है जहां से किसान आता है और सेना के लिए जवान आता है। इसके बाद भी अगर चैनलों के सर्वे में मोदी की लोकप्रियता 100 में 60 और…

बीजेएनपी के कार्यकर्ता घर-घर जा कर बताएंगे आरटीपी के फायदें – संतोष कुमार यादव

santosh kumar yadav - bjnp - right to promise - आरटीपी

लोकसभा चुनाव नज़दीक है। ऐसे में सभी राजनैतिक पार्टियों ने अपने अलग-अलग मुद्दे लगभग चुन लिये हैं। वहीं, दूसरी ओर अन्य राजनैतिक पार्टियों से अलग भारतीय जन नायक पार्टी ने आरटीपी यानी “राइट टू प्रोमिस” के मुद्दे पर चुनाव लड़ने का फैसला किया है। इसके लिए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष संतोष कुमार यादव ने सभी पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं को घर-घर जाकर आरटीपी से होने वाले लाभ के बारे में जानकारी देने का जिम्मा सौंप दिया है। क्या है आरटीपी? राइट टू प्रोमिस यानी आरटीपी का मतलब है चुनाव के समय…

लोकसभा चुनाव में भाजपा को सेना के शौर्य का फायदा नही मिलेगा, जनता बीजेपी की साज़िशों को समझ चुकी है

जो लोग यह मानकर चल रहे हैं कि लोकसभा चुनाव में भाजपा को सेना के शौर्य का फायदा मिलेगा, प्लीज वे मित्र अपनी गलती सुधार लें। ये लोग सेना का जितना राजनीतिकरण करेंगे, इनकी हार उतनी ही पक्की होती चली जाएगी। जो लोग अपन की तरह बस, मैजिक, आपे में यात्रा करते होंगे, रेस्टोरेंट -भोजनालयों, चाय-पान की गुमटियों पर होने वाली राजनीतिक चर्चाओं को सुनते होंगे, अगर चर्चा न हो रही हो, तो लोगों को इसके लिए उकसा कर उनका मन टटोलते होंगे, उन्हें अपन की बात अच्छी तरह समझ…

ये है राम राज्य- बीजेपी नेताओं ने फिरौती के लिए 2 मासूमो की हत्या कर दी

सतना के चित्रकूट में दो जुड़वां भाइयों के मर्डर केस की परतें खुलती जा रही हैं। पुलिस के अनुसार, इस वारदात का आइडिया देने वाला कोई और नहीं बच्चों को ट्यूशन पढ़ाने वाला टीचर था। वहीं बच्चों के पिता से फिरौती के 20 लाख रुपए मिलने के बाद आरोपियों ने बच्चों से पूछा कि छूटने के बाद क्या हमें पहचान लोगे तो बच्चों ने हां कह दिया, इसके बाद ही मासूमों की हत्या की गई। आरोपी पढ़े-लिखे भी हैं। बता दें कि 12 फरवरी को इन जुड़वां बच्चों का उन्हीं…

पुलवामा हमले के बाद मोदी ने खाना नही खाया, सिर्फ पनीर, ढोकला और गोभी के पकोङे ही खाये

पुलवामा हमले की ख़बरों के बीच प्रधानमंत्री मोदी ने कुछ नही खाया जैसे ही यह बयान बीजेपी ने दिया उसी समय एक अखबार ने उनके दावे की पोल खोल दी सबने देखा पीएम डिस्कवरी  चैनल की शूटिंग में बिजी थे। पुलवामा हमले की ख़बर आते ही जब सुनने वाले स्तब्ध हो रहे थे, प्रधानमंत्री मोदी कैमरे के सामने पोज़ दे रहे थे। डिस्कवरी चैनल के वीडियो और स्टिल कैमरे के बीच प्रधानमंत्री का अलग-अलग कपड़ों में दिखाई देना हैरान करता है। स्टिल तस्वीर में वे अपने कुर्ता पाजामा में नज़र…

मदन मोहन मालवीय की आत्मा रो रही होगी, कयोकि बीएचयू के एक प्रोफेसर कौशल मिश्रा ने मेरा नंबर फेसबुक पर शेयर कर गालियाँ दिलाई

क्या राष्ट्रपति मेरा नंबर जारी कर लोगों को उकसाने वाले BHU के प्रो कौशल मिश्रा को बर्खास्त करेंगे ? मदन मोहन मालवीय जी की आत्मा रो रही होगी। एक भव्य यूनिवर्सिटी बनाने के प्रयासों से गिरा उनका पसीना बनारस में ही सूख गया है। नहीं सूखा होता तो उनके खून पसीने से बनी बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी का एक प्रोफेसर कौशल मिश्रा मेरा नंबर फेसबुक पर शेयर नहीं करता और भारत विरोध के लिए बधाईदेने के नाम पर भीड़ को नहीं उकसाता। प्रोफेसर कौशल मिश्र हैं जो बीएचयू में राजनीति शास्त्र…