बीमा पालिसी के बाद भी मरीज़ ठेले पर लदकर जा रहे है, लाश ढोने के लिए एंबुलेंस नहीं हैं पर सरकार चुप है।

बीमा का मतलब अस्पताल और इलाज नहीं होता है, कुछ और होता है। हर साल बजट आता है। हर साल शिक्षा और स्वास्थ्य में कमी होती है। लोकप्रिय मुद्दों के थमते ही शिक्षा और स्वास्थ्य पर लेख आता है। इस उम्मीद में कि सार्वजनिक चेतना में स्वास्थ्य से जुड़े सवाल बेहतर तरीके से प्रवेश करेंगे। ऐसा कभी नहीं होता। लोग उसे अनदेखा कर देते हैं। इंडियन एक्सप्रेस में लोक स्वास्थ्य पर काम करने वाली प्रोफेसर इमराना क़ादिर और सौरिन्द्र घोष के लेख को अच्छे से पेश किया गया है ताकि…

नौकरी के नाम पर सरकारें बेरोजगारो को हर तरह से ठग रही हैं

सरकारों की नौकरियों से ठगे गए नौजवानों एक बार मेरी बात सुन लो क्या मैं कभी नौकरी सीरीज़ से निकल पाऊंगा ? डेढ़ साल हो गए। हर दिन कोई नई समस्या विकराल रूप धारण किए चली आती है। मेरा अपना अनुभव है कि नौजवान ही नौजवानों की समस्या नहीं देखते हैं। मतलब बिजली वाले के साथ क्या हो रहा है इससे शिक्षा वाले को कोई मतलब नहीं रहता.सब अपना अपना देखना चाहते हैं। होता कुछ नहीं है फिर भी देखना चाहते हैं। अपने आंदोलन और नीति की समझ और नैतिक…

मोदी भक्तों द्वारा मेरी माँ और बहन को दी गई गालियाँ भारत माता को समर्पित करता हूँ भारत माता की जय – रवीश कुमार

माँ-बहन की गालियों पर मां-बहन ही चुप हैं, क्यों चुप हैं? देशभक्ति के नाम पर गालियों पर छूट मिल रही है। दो चार लोगों को ग़द्दार ठहरा कर हज़ारों फोन नंबरों से गालियां दी जा रही हैं। मैं गालियों वाले कई मेसेज के। स्क्रीन शॉट यहाँ पेश कर रहा हूँ। भारत में देशभक्त तो बहुत हुए मगर गाली देने वाले ख़ुद को देशभक्त कह सकेंगे यह तो किसी देशभक्त ने नहीं सोचा होगा। इन गालियों से मुझे देने वाले की सोच की प्रक्रिया का पता चलता है। माताओं और बहनों…

जागरण ने कहा- अगर मोदी पीएम नही बने तो रुपया 75 से नीचे कभी नही आयेगा ! ऐसी मीठी धमकी मनमोहन सिंह के लिये तो कभी नही छापी ?

जागरण की इस ख़बर पर पाठकों के बीच जन-जागरण हो 2014 में रुपये की क्या धमक थी। डॉलर को धमकियाँ मिल रही थीं। साधु संत तक ट्विट करने लगे थे कि मोदी प्रधानमंत्री बनेंगे तो एक डॉलर चालीस रुपये का हो जाएगा। एंटायर पोलिटिकल साइंस वाले नरेंद्र मोदी तक रुपये को मुद्दा बनाने लगे। मगर क्या ऐसा हुआ ? एक डॉलर चालीस रुपये की जगह अस्सी का होने लगा। 2019 में कहानी बदल गई है। भ्रम फैलाने के लिए नया तर्क गढ़ा जा रहा है कि नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री नहीं…

झूठे प्रचार के लिए बीजेपी 37 फिल्म स्टार्स को देती है हर महीने 1-1 करोड़ रुपये

झूठे प्रचार के लिए महिमा चौधरी तैयार, बोलीं- बीजेपी तो एक करोड़ एक महीने में दे सकती है। बीते रोज़ कोबरापोस्ट ने बॉलीवुड और टीवी जगत के करीब 36 कलाकारों के स्टिंग का दावा किया. इस स्टिंग ऑपरेशन के सामने आने के बाद हड़कंप मच गया. कोबरापोस्ट ने कई नामी सितारों के वीडियो जारी किए, जिसमें वो पैसे लेकर किसी भी राजनीतिक पार्टी के प्रचार के लिए तैयार होते नज़र आ रहे हैं। स्टिंग ऑपरेशन में बॉलीवुड की एक ज़माने की मशहूर अभिनेत्री रहीं महिमा चौधरी भी पैसे लेकर अपने…