गाय माता की चिंता सी दिखाने वाली बीजेपी सरकार को यह सब क्यो नही दिख रहा है ?

इन तस्वीरों में कुछ भी नया नहीं है। हर शहर और गाँव-क़स्बे की कहानी है। गाय को लेकर राजनीति ही की गई। उसका एक ही मक़सद था, दो धर्मों के बीच गाय खड़ी कर दो। गायें खडीं हो गईं खेतों में। किसान दौड़ने लगा गाय और सांड के पीछे। खेतों में कँटीली तारें बाँधी जाने लगी। गायें छलनी होने लगीं। किसानों की जेब खाली होने लगी। गाँवों में चारागाह की ज़मीन पर दबंगों का कब्ज़ा है। गौ माता के नाम पर इनके ख़िलाफ़ कोई चूँ तक नहीं बोलेगा क्योंकि यही…

ट्विटर पर मतदान के दिन चौकीदार हैंडल सक्रिय कयो हो उठते हैं ? रवीश कुमार

ट्विटर पर मतदान के दिन चौकीदार हैंडल सक्रिय हो उठते हैं, माहौल बनने लगता है 17 मार्च को प्रधानमंत्री मोदी ने मैं भी चौकीदार अभियान लांच किया था। 17 मार्च से 19 अप्रैल के बीच उत्तर प्रदेश में 26,000 हैंडल ने खुद के नाम के आगे चौकीदार रख लिया। इन हैंडलों से साढ़े आठ लाख बार ट्वीट हुए। लेकिन जब डेटा की जांच की गई तो पता चला कि 26,000 में से मात्र 1300 हैंडल ने 70 प्रतिशत ट्वीट किए। यानी 463000 बार। हर हैंडल ने एक महीने में 356…