मोदी जी चाहते थे कि दागी नेताओं को चुनाव लड़ने से न रोका जाय और सुप्रीम कोर्ट ने बात मान ली

  • 1.6K
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

2014 से पहले नरेंद्र मोदी कहते थे कि वे जब प्रधानमंत्री बनेंगे तब वे सुप्रीम कोर्ट के जज से कहेंगे कि राजनीति में जो अपराधी संसद और विधानसभा में बैठे हैं उनका जरा एक डोजियर तैयार तो करो और साल भर के अंदर सबको जेल में डालो उसमे बीजेपी के लोग ही क्यों न शामिल हो.पर मोदी जी पीम बनते ही अपना यह वादा भूल गए अब उन्होंने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि दागियो को चुनाव लड़ने दिया जाय और सरकार के प्रिय मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा जी ने मोदी जी के मन की बात पूरी कर दी.

डाउनलोड करें Hindi News APP और रहें हर खबर से अपडेट।

loading...

राजनीति में अपराधीकरण को लेकर को लेकर सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों का संविधान पीठ ने कहा कि करप्शन एक नाउन है. चीफ जस्टिस ने कहा कि करप्शन राष्ट्रीय आर्थिक आतंक बन गया है. भारतीय लोकतंत्र में संविधान के भारी मेंडेट के बावजूद राजनीति में अपराधीकरण का ट्रेंड बढ़ता जा रहा है. कोर्ट ने कहा कि कानून का पालन करना सबकी जवाबदेही है. कोर्ट ने कहा कि वक्त आ गया है कि संसद ये कानून लाए ताकि अपराधी राजनीति से दूर रहें. पब्लिक लाइफ में आने वाले लोग अपराझ राजनीति से ऊपर हों. राष्ट्र तत्परता से संसद द्वारा कानून का इंतजार कर रहा है. कोर्ट ने इस फैसले से दागी नेताओं को राहत मिली है. कोई ने कहा है कि सिर्फ़ आरोप तय होने से किसी को अयोग्य करार नहीं दिया जा सकता है और बिना सज़ा के चुनाव लड़ने पर रोक नहीं लगाई जा सकती है.

  •  
    1.6K
    Shares
  • 1.6K
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Related posts

Leave a Comment