हवा का रुख़ देख 5 साल बाद जी न्यूज ने मारी पलटी, बोली – बीजेपी की माउथपीस नही

  •  
  • 150
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

पीएम मोदीजी की खराब होती हवा और राहुल का चढ़ता सियासी पारा देख कई मौसम विज्ञानी पलटी मारने को तैयार होते दिख रहे हैं. इसी क्रम में ‘जी न्यूज’ ने भी सक्रियता दिखाई है. भाजपा और मोदी की भरपूर भक्ति दिखाने और कांग्रेस समेत सारे गैर-भाजपा पार्टियों को जमकर गरियाने वाले जी न्यूज को अब लगता है कि वक्त बदलने-पलटने का आ गया है. इसीलिए एक चिट्ठी राहुल गांधी के लिए रवाना कर दिया गया है कि वे जी न्यूज से पाबंदी खत्म करें और कांग्रेस के प्रवक्ता को डिबेट में बोलने-बिठाने के लिए भेजा करें.

डाउनलोड करें Hindi News APP और रहें हर खबर से अपडेट।

loading...

देखते हैं इस चिट्ठी के बाद राहुल गांधी और उनकी कांग्रेस कितना पिघलती है. पर फिलहाल मीडिया जगत और राजनीतिक जगत में चर्चा इस बात की हो रही है कि क्या सुभाष चंद्रा अभी से मान चुके हैं कि 2019 के चुनाव में मोदीजी और भाजपा का आना मुश्किल है. इस मसले पर पत्रकार आदेश रावेल ने फेसबुक पर एक टिप्पणी लिखी है, जो इस प्रकार है…

Aadesh Rawal : Zee Group writes to Congress president @RahulGandhi asking him to end the ban of Zeenews and requests him to send parties spokesperson to Zee Network debates. Network claims that, they are not the mouthpiece of any political Party or Government.


  •  
  • 150
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    150
    Shares
  • 150
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Related posts

Leave a Comment