मोदी जी, आप हताश और मानसिक बीमार हो चुके है, ईश्वर आपको सद्बुद्धि दे ! गेट वेल सून – राहुल गांधी

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

“राहुल गाँधी तुम्हारे पिता का अंत भ्रष्टाचारी के रुप में हुआ है ! ये बोल है एक बड़े पद पर बैठे बहुत नीच इंसान के !

अब इसके जवाब में राहुल गाँधी ने जो जवाब दिया है उसे देखिए-“आप हताश और मानसिक बीमार हो चुके है मोदीजी, ईश्वर आपको सद्बुद्धि दे ! गेट वेल सून !”

दोनों के शब्दों में अंतर से साफ पता चल रहा है की कौन किसकी औलाद है, कौन किस परिवार से है और कौन कितना जाहिल है !
मोदीजी की सड़कछाप मवालियों की भाषा देखे तो साफ पता चल रहा है की, इनकी इनके पिता से कभी नहीं बनी, ना उनके साथ रहे, साथ रहे होते तो एक बाप ठोक पीटकर अपने बेटे को इतना तो सिखा हि देता की किसी दिवंगत आदमी के बारे में कैसे बोला जाता है !
और साथ क्यों नहीं रहे ?
एक पिता अपनी संतान को साथ में उसी कंडीशन में नहीं रखता जब संतान उठाईगीर और मवाली टाईप हो !
या फिर दूसरी सिचुएशन बनती है की, इनके पिता के बारे में जो लिखा और बोला जा रहा है वो बिलकुल सच है इनको रेलवे के कोयला और लोहा चोर अपने पिता से वही सड़क छाप संस्कार मिले है जो एक अपराधी अपने बेटे को देता है !

डाउनलोड करें Hindi News APP और रहें हर खबर से अपडेट।

loading...

और राहुल के बयान पर नजर डालें तो समझ आता है की उनका नाता एक उच्च शिक्षित और संस्कारवान परिवार से है अपनी भाषा को उन्हीं के स्तर पर ना गिराकर साबित किया है की, गाँधी परिवार को विरासत में प्रेम, क्षमा और बड़ा दिल मिलता आया है !
राहुल की भाषा से साफ पता लग रहा है की उनके पिता एक अच्छे नेता हि नहीं एक बेहतरीन पिता भी थे ! अगर वो गलत होते तो हताशा में उनके बेटे की भाषा भी वही होती जो एक भ्रष्टाचारी और सड़कछाप मवाली की होती है !

आज एक बार फिर कह रहा हूँ राजनीति में नेहरूजी के मुकाम को अगर कोई छू पायेगा तो वो सिर्फ और सिर्फ स्वर्गीय राजीव गाँधी के बेटे राहुल गाँधी होंगे- क्योंकि उन्हें उनके पिता से विरासत में सच कहने सुनने की ताकत मिली है, इंद्रा गाँधी से अडिग और अचल रहने की ताकत और धैर्य मिला है, नेहरूजी से विकास और देश को आगे बढ़ाने की प्रेरणा मिली है, गांधीजी से सत्य और प्रेम की शिक्षा मिली है !

मोदी को उन्हीं की भाषा में जवाब ना देकर राहुल गाँधी ने साबित कर दिया कि उनके पिता कितने महान थे, आज ना जाने कितने लोगों के दिल में राहुल गाँधी के लिए इज्जत और बढ़ गयी – गिरिराज वेद


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Related posts

Leave a Comment