जब पीएम को चोरों के नाम पता है तो वे भाषणों मे या मन की बात मे उनके नाम क्यो नही लेते ?

black money of bjp receiving by narendra modi
  •  
  • 84
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

चौकीदार को जब बैंकों के चोरो और डिफॉल्टरों के नाम पता है तो वे भाषण मे उनके नाम क्यो नही लेते ? कया नेहरू जी ने रोक रखा है !

विजय माल्या के बयान के बाद चर्चा का बाज़ार गर्म है कि किसके कार्यकाल में लोन दिया गया किसने बसूली नही की किसने उसे विदेश भागने में मदद की। मान लीजिए मध्य प्रदेश के नवबंर में चुनाव होने है और यदि आज मुझे कोई लोन स्वीकृत होता है जिसे मुझे आगामी 5 साल में चुकाना है और चुनाव के बाद सरकार बदल जाती है तो क्या नई सरकार मुझसे बसूली नही करेगी क्या केवल इस आधार पर की लोन तो पहले की सरकार के टाइम लिया गया था । क्या मुझे बैंक डिफाल्टर बनने के बाद बिना जांच पड़ताल के विदेश भागने में मदद मिल सकती है क्या ?

पता सबको है कि डिफाल्टर कौन है सारे देश को पता है कि पंजाब नेशनल बैंक का पैसा जनता का था…स्टेट बैंक का असली मालिक जनता ही है…तो इन बैंकों के पैसा लेकर रफूचक्कर होने वाले डकैत जनता का पैसा लेकर भागे है तो फिर ये बीजेपी वाले उन डिफॉल्टरों के नाम सार्वजनिक करने से डरते क्यो है ?

डाउनलोड करें Hindi News APP और रहें हर खबर से अपडेट।

loading...

जबकि कोर्ट ने तक कहा है कि जिन्होंने कर्ज नही चुकाया जो जानबूझकर ब्लैक लिस्टेड बन गए उनके नाम जनता को बताए जाएं…पर आज तक किसी भी मंच पर किसी भी प्रेस कॉन्फ्रेंस में किसी भी डिबेट में संसद के किसी भी भाषण में इन भाजपा के नेताओ ने इन लाखो करोड़ो अरबों का NPA कर चुके डिफॉल्टरों के नाम जनता को नही बताये क्यो ?

क्या कोई मिली भगत है क्या इनसे मोटी रकम लेकर चुप्पी साधे हुए है ये नेता ..? या फिर कोई डर है भय है इन डिफॉल्टरों से नेताओ को क्या वजह है वो जनता जानना चाहती है।

कहीं कोई चंदा का लफड़ा तो नही.. कि ये सारे चोर डिफाल्टर भाजपा को चुनाव में बड़ा अमाउंट का चंदा देते है तो आपके मुंह मे दही जमा हुआ है…जनता आप के मुंह से उन डिफॉल्टरों के नाम सार्वजनिक मंच से सुनना चाहती है जिन्होंने जनता के खून पसीने की गाढ़ी कमाई को लूट खाया है।


  •  
  • 84
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    84
    Shares
  • 84
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Related posts

Leave a Comment